Video: इरफान पठान ने धोनी पर लगाया आरोप,बताया कैसे उनका कैरियर खत्म किया

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व ऑल राउंडर इरफान पठान ने अपनी क्रिकेट की दुनिया के एक पुराने दर्द का इजहार करते हुए पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी पर निशाना साधा है और बिना नाम लिये बड़ी बात कही है।

इरफान पठान ने कहा कि उन्हें कोच और कप्तान से उतना सपोर्ट नहीं मिला था. पठान उस समय की बात कर रहे हैं जब गैरी कर्स्टन टीम इंडिया के कोच और एमएस धोनी कप्तान थे।

इरफान ने कहा कि उन्हें उस दौरान टीम में नियमित तौर पर ज्यादा मौके नहीं दिए गए. पठान ने कहा, ‘मुझे लगता कि एक माहौल भी बनाया गया कि इरफान पठान की गेंद अब उतनी स्विंग नहीं हो रही. अगर कोई ओपनर है और उसे आप नंबर-7 पर बल्लेबाजी कराते हो उसके प्रदर्शन पर फर्क पड़ेगा. ऐसे में कप्तान का रोल है कि उसको सपोर्ट करे क्योंकि आपने ही तो उसका नंबर बदला.’

इरफान ने कहा कि वह अपने आखिरी वनडे इंटरनेशनल में मैन ऑफ द मैच रहे, लेकिन इसके बावजूद उन्हें मौका नहीं दिया गया।

पठान ने कहा, ‘ऋद्धिमान साहा एक साल के बाद टीम में वापस आए थे. ऋषभ पंत दो शतक लगाने के बाद बाहर था फिर अंदर आया. कई बार लड़कों को बैक किया जाता है तो कई बार नहीं. कुछ खिलाड़ी लकी होते हैं तो कुछ अनलकी. हम अनलकी वाली लिस्ट में थे. अगर इरफान पठान की स्विंग खत्म हो गई है तो टीम में इस माहौल को ठीक करना था।

पठान ने कहा, ‘मैंने कोच गैरी कर्स्टन से पूछा था कि मैं बेहतर बनने के लिए क्या करूं. इस पर उन्होंने कहा था कि उनके हाथ में कुछ चीजें नहीं हैं.’

इरफान ने बताया, ‘एक बार मैंने धोनी से साल 2008 में पूछा था कि मैं और कैसे बेहतर करूं तो उन्होंने कहा कि कुछ भी गड़बड़ नहीं है और सब ठीक चल रहा है.’

इरफान पठान ने कहा, ‘2008 में ऑस्ट्रेलियाई दौरे के बाद गैरी कर्स्टन कोच बने थे. उसके बाद से चीजें बदलने लगीं. मैं उन्हें या किसी को दोष नहीं दे रहा हूं. हर कोच और कप्तान की अपनी सोच होती है.’

बता दें कि साल 2008 में एक मीडिया रिपोर्ट में यह बात सामने आई थी कि आरपी सिंह की जगह इरफान पठान के सेलेक्शन को लेकर धोनी असहमत थे. जब चयनकर्ताओं ने आरपी सिंह के स्थान पर इरफान पठान को चुनने को कहा तो धोनी ने कप्तानी छोड़ने की बात कही थी।

बता दें कि धोनी ने अपना आखिरी इंटरनेशनल मैच जुलाई 2019 में न्यूजीलैंड के खिलाफ वर्ल्ड कप का सेमीफाइनल खेला था, जिसमें उनके रन आउट होते ही टीम इंडिया की उम्मीदें टूट गई थीं. आईपीएल के जरिए क्रिकेट में महेंद्र सिंह धोनी की वापसी पर कोरोना वायरस ने पानी फेरा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *