मक्का में उमराह की मिली इजाजत,भारत सहित इन तमाम देशों पर लगा है बैन,जानिए क्यों ?

नई दिल्ली: सऊदी अरब ने बुधवार को कोविड-19 महामारी (C0vid-19 Pandemic) के मद्देनजर भारत, ब्राजील और अर्जेंटीना से आने वाली हवाई उड़ानों को निलंबित कर दिया है. देश के नागरिक उड्डयन प्राधिकरण के अनुसार इन देशों की 14 दिन पहले की गई यात्रा करने वाले लोगों की देश में आने पर रोक लगा दी गई है।

नागरिक उड्डयन विभाग ने उन लोगों को इस नियम से बाहर रखा है जिनके पास आधिकारिक सरकारी निमंत्रण हैं. देश की समाचार एजेंसी एसपीए ने एक रिपोर्ट में बताया कि कोरोनावायरस चिंताओं के कारण सात महीने के अंतराल के बाद सऊदी अरब सरकार ने 4 अक्टूबर से शुरू होने वाले उमरा तीर्थयात्रा के लिए तीर्थ यात्रियों को देश के अंदर रहने की अनुमति दे दी है।

उमरा मक्का और मदीना में की जाने वाली एक तीर्थ यात्रा है. पिछले साल 19 लाख लोगों ने यह पवित्र यात्रा की थी. हालांकि इस साल कोरोना वायरस महामारी के चलते सिर्फ एक हजार लोगों ने यात्रा की. सऊदी अरब ने मार्च में उमरा पर रोक लगा दी थी. आधिकारिक आंकड़े बताते हैं कि सऊदी अरब एक साल में हज और उमराह से लगभग 12 बिलियन अमरीकी डॉलर की कमाई करता है।

सऊदी अरब सरकार ने अब इसे कई चरण में खोलने का फैसला किया है. पहले चरण के दौरान 4 अक्टूबर से सिर्फ सऊदी अरब के लोगों को मस्जिद में आने की इजाजत मिलेगी. एक दिन में आने वाले लोगों की संख्या 6 हजार होगी. 18 अक्टूबर से दूसरा फेज शुरू होगा. दूसरे फेज के दौरान भी सिर्फ सऊदी अरब के लोगों को मस्जिद में एंट्री मिलेगी लेकिन इस दौरान कुल 65 हजार लोगों को मस्जिद में आने की इजाजत मिलेगी. तीसरे फेज में एक नवंबर से सऊदी अरब के बाहर रहने वाले लोगों को भी उमरा के लिए आने की इजाजत मिलेगी. इस दौरान एक दिन में कुल 80 हजार लोगों को यहां आने की इजाजत मिल सकती है।

सऊदी अरब सरकार ने अब इसे कई चरण में खोलने का फैसला किया है. पहले चरण के दौरान 4 अक्टूबर से सिर्फ सऊदी अरब के लोगों को मस्जिद में आने की इजाजत मिलेगी. एक दिन में आने वाले लोगों की संख्या 6 हजार होगी. 18 अक्टूबर से दूसरा फेज शुरू होगा. दूसरे फेज के दौरान भी सिर्फ सऊदी अरब के लोगों को मस्जिद में एंट्री मिलेगी लेकिन इस दौरान कुल 65 हजार लोगों को मस्जिद में आने की इजाजत मिलेगी. तीसरे फेज में एक नवंबर से सऊदी अरब के बाहर रहने वाले लोगों को भी उमरा के लिए आने की इजाजत मिलेगी. इस दौरान एक दिन में कुल 80 हजार लोगों को यहां आने की इजाजत मिल सकती है।

सीएसएसई(CSSE)के अनुसार दुनिया में कोरोना के सबसे अधिक मामले अमरीका में हैं. कोरोना के कुल 6,896,218 मामले और 200,786 मौतों के साथ अमेरिका सबसे खराब स्थिति वाला देश है. वहीं भारत में 5,562,663 मामलों के साथ दूसरे स्थान पर आता है. भारत में अब तक कोरोना महामारी से 90,020 लोगों की मृत्यु हो चुकी है. ब्राज़ील (4,591,364) और अर्जेंटीना (652,174) भी कोरोना के कारण बहुत बुरी स्थिति में हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *