प्रधानमंत्री मोदी के बयान पर ओवैसी ने उड़ाई खिल्ली तो भाजपा को डिलीट करना पड़ा ट्वीट,देखिए

नई दिल्ली: भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इन दिनों अपने टीवी इंटरव्यू को लेकर काफी चर्चाओं में हैं,अक्षय कुमार को दिये गए इंटरव्यू का मामला अभी शांत नही हुआ था कि अब एक नया अलबेला इंटरव्यू सामने आया है,जिस पर विपक्ष सहित अन्य तमाम नेताओं ने जमकर खिल्ली उड़ाई है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा बालाकोट एयर स्ट्राईक पर दिये गए इंटरव्यू में कुछ ऐसा बोल गए जिसे खुद बीजेपी को अपने ट्विटर हैंडल से डिलीट करना पड़ा. पीएम मोदी ने इस इंटरव्यू में कहा कि एयर स्ट्राइक के दिन हमने सुझाव दिया था कि खराब मौसम रहने के कारण हमारे फाइटर विमान रडार की पकड़ में आने से बच सकते हैं. पीएम मोदी के इसी बयान पर विपक्षी नेताओं ने कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार आपको बता दें कि पीएम के बालाकोट एयर स्ट्राइक पर टीवी इंटरव्यू में दिए गए बयान को बीजेपी ने अपने आधिकारिक सोशल मीडिया पेज पर शेयर किया था. लेकिन विपक्षी दलों के नेताओं के द्वारा पीएम मोदी के बयान की आलोचना करने के बाद सोशल मीडिया से बीजेपी ने उस ट्वीट को हटा लिया।

ट्विटर पर पीएम मोदी के जिस बयान की खूब चर्चा हो रही है, उसमें उन्होंने कहा था – हमारे सामने समस्या थी कि उस समय अचानक बारिश आ गई और मौसम काफी खराब था. एक पल हमारे मन में आया कि आसमान में बादल हैं और इस खराब मौसम में हम क्या करेंगे? एक्सपर्ट्स ने कहा कि क्या दूसरे दिन स्ट्राइक करें? लेकिन मेरे मन में दो बातें आईं- एक सीक्रेसी और दूसरी बात मैंने कहा कि मौसम खराब होने की वजह से हम रडार से बच सकते हैं. लेकिन आखिर में हमने जाने का फैसला लिया।

बताते चले इसी ट्वीट को रीट्वीट करते हुए एआईएमआईएम नेता ओवैसी ने लिखा कि, ‘सर सर प्रधानमंत्री आप तो गजब के एक्सपर्ट हैं. सर आपसे से अनुरोध है कि अपने नाम से चौकीदार हटा दीजिए और एयरचीफ मार्शल और प्रधान…क्या टॉनिक पीते हैं आप…कि आपकी बातों में रोजगार, अर्थव्यवस्था, औद्योगिक विकास और कृषि संकट के अलावा हर बात का फार्मूला होता है. जारी रखें मित्रों.’ इसके बाद गुजरात बीजेपी ने अपना ट्वीट डिलीट कर दिया।

कांग्रेस पार्टी ने पीएम मोदी के बयान पर तंज कसते हुए उनके पांच साल के कार्यकाल पर हमला बोला है. कांग्रेस पार्टी ने कहा, “जुमला ही फेंकता रहा पांच साल की सरकार में, सोचा था क्लाउडी (बादलों वाला) है मौसम, नहीं आऊंगा रडार में”

सीपीएम महासचिव सीताराम येचुरी ने पीएम मोदी पर कड़े शब्दों में हमला बोला. उन्होंने कहा, “मोदी के शब्द शर्मिंदा करने वाले हैं क्योंकि यह हमारे एयर फोर्स को अनप्रोफेशनल बताता है. वह जो बोल रहे हैं वह एंटी नेशनल है.”

आईएएस की नौकरी छोड़कर राजनीति में आए शाह फैसल ने भी शायरी के जरिए पीएम मोदी के बयान पर तंज कसा है. उन्होंने कहा, “इन बादलों से दोस्ती अच्छी नहीं फ़राज़, कच्चा तेरा मकान है कुछ तो ख्याल कर”

पीएम मोदी के बादलों को लेकर दिए गए बयान के बाद जम्मू-कश्मीर नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला ने भी ट्वीट कर चुटकी ली. उन्होंने कहा, ‘लगता है कि ट्वीट भी बादलों में कहीं गुम हो गया है. किस्मत से इसका स्क्रीनशॉट चारों तरफ घूम रहा है.’

एनसाइक्लोपीडिया ब्रिटेनिका के मुताबिक रडार एक इलेक्ट्रोमेग्नेटिक सेंसर है जिसे एक तय दूरी से कई तरह की चीजों (विमान, ड्रोन आदि) को पकड़ने, खोजने और ट्रैकिंग के लिए इस्तेमाल किया जाता है. रडार हवा में या जमीन पर मौजूद किसी भी चलने वाली चीज की तरफ इलेक्ट्रोमेग्नेटिक एनर्जी भेजता है. उस विमान या ऐसी किसी भी चीज से निकलने वाली आवाज को पकड़कर सिग्नल भेजता है. रडार इंफ्रारेड और ऑप्टिकल सेसिंग डिवाइस से इसलिए अलग है क्योंकि ये दूर की चीजों को पकड़ने और किसी भी तरह के मौसम में काम कर सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *