गौतम गंभीर खुद AC गाड़ी में बैठे रहे हमशक्ल से धूप में कराया प्रचार,देखिए कैसे खुली पोल

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट टीम के सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर राजनीतिक पारी की शुरुआत कर चुके हैं और वो पूर्वी दिल्ली संसदीय क्षेत्र से भाजपा के प्रत्याशी हैं,गम्भीर राजनीति में आये हैं तो उन्हें राजनीति के दांव पेंच भी ज़रा समझने होंगें नही तो मंज़िल तक नही पहुँच पाँएगे।

राजनीति में साम,दाम,दण्ड, भेद चलता है क्रिकेट के मैदान पर बल्ले के जौहर दिखाने वाले गौतम गम्भीर की चुनाव प्रचार के दौरान की एक फोटो सोशल मीडिया पर वायरल होरही है,जिसमें गम्भीर खुद अंदर गाड़ी में बैठे हैं और अपने हमशक्ल से पीछे धूप में प्रचार करवा रहे हैं।

आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता और दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने शुक्रवार को गंभीर द्वारा चुनाव प्रचार में अपने हमशक्ल को शामिल करने की तस्वीरें सोशल मीडिया पर साझा करते हुये कहा कि गंभीर धूप से बचने के लिये अपने हमशक्ल का इस्तेमाल कर रहे हैं. इतना ही सिसोदिया ने गंभीर के हमशक्ल की पहचान कांग्रेस नेता के रूप में बताते हुये गंभीर को बीजेपी और कांग्रेस की मिलावट करार दिया।

उल्लेखनीय है कि गंभीर की कुछ तस्वीरें सोशल मीडिया पर चस्पा की गयी हैं. इनमें गंभीर प्रचार वाहन में अंदर बैठे दिख रहे हैं जबकि उनका हमशक्ल वाहन के ऊपर बैठा है. उसे स्थानीय लोग गंभीर समझ कर मालायें पहना रहे हैं।

सिसोदिया ने ट्वीट कर कहा, ”ये कांग्रेस और बीजेपी की महामिलावट है. गौतम गंभीर ए.सी. गाड़ी में नीचे बैठे है. उन्हें धूप में समस्या है. उनकी जगह उनका हमशक्ल टोपी लगाकर खड़ा है. कार्यकर्ता ‘डुप्लीकेट’ को गौतम गंभीर समझकर माला पहना रहे हैं. जो डुप्लीकेट है वो असल में कांग्रेसी नेता है.”

इस बीच आप नेता दुर्गेश पाठक ने हमशक्ल की पहचान उजागर करते हुये बताया कि उनका नाम गौरव अरोड़ा और वह बतौर कांग्रेस उम्मीदवार नगर निगम का चुनाव लड़ चुके हैं. पाठक ने ट्वीट कर कहा, ”गौतम गंभीर का डुप्लीकेट, गौरव अरोड़ा है, जो 2017 में दिल्ली नगर निगम चुनाव में कांग्रेस उम्मीदवार थे.”

पाठक ने पूछा कि, ”कांग्रेस और अजय माकन बीजेपी की क्यों मदद करना चाहते है? क्या डील हुई है?” इस मामले में सफाई देते हुये बीजेपी नेता और पूर्वी दिल्ली सीट के प्रभारी राजीव बब्बर ने कहा कि गंभीर की सेहत ठीक नहीं थी. अत्यधिक गर्मी से स्वास्थ्य बिगड़ने की वजह से गंभीर कुछ समय के लिये कार में बैठ गये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *